महराजगंज: प्राइमरी विद्यालयों के औचक निरीक्षण में पहुंचे सिसवा विधायक, गलतियां सुधारने की दी चेतावनी

यूँ तो यूपी में प्राइमरी विद्यालय का नाम सुनते ही मन में बदहाल व्यवस्था की तस्वीर उभर कर सामने आती है। न बच्चो को बैठने के लिए कुर्सी और न मिड-डे-मिल योजना के तहत अच्छा भोजन मिलता है। और तो और जहाँ आठ शिक्षक तैनात है, उनमे से मात्र दो ही शिक्षक आते है बच्चो को पढ़ाने वो भी पढ़ाते नही है। बच्चे स्कूल प्रांगण मे घूमते नजर आते है।
जी हाँ आप ने सही सुना यह मामला यूपी के जनपद महराजगंज के विधानसभा सिसवा के ब्लाक निचलौल के अंतर्गत ग्रामसभा चरभरिया के सरकारी विद्यालय की है। जब दोपहर बाद विधानसभा सिसवा के विधायक प्रेमसागर पटेल क्षेत्र का भ्रमण कर रहे थे तो वही ग्राम सभा कलनही टोला चरभरिया के प्राथमिक विद्यालय के बच्चो को सड़क पर घूमते देख कर विद्यालय की शिक्षा व्यवस्था देखने विद्यालय पर पहुँच गए।
जब विद्यालय पर गए तो उनको हकीकत का पता चला। वहा पर मौजूद शिक्षक से पूछने पर पाया कि इस विद्यालय पर दस शिक्षक तैनात है जिसमे से दो शिक्षामित्र है वह भी नही आये थे और दो शिक्षक छुट्टी पर है और चार आये ही नही है। विद्यालय के छात्र उपस्थिति पंजिका को देखा तो पता चला कि दो दिनों से छात्रों का हाजिरी नही भरा गया है। वहा पर मौजूद शिक्षिका से जब विधायक ने पूछा कि छात्रों की हाजिरी दो दिनों से क्यों नही लगाई गयी है तो उपस्थित शिक्षक ने बताया की बीएसए साहब कहे हैं कि जब मैं शाम को फोन करके बताउँग तब हाजिरी भरना। बात दे कि चरभरिया मे माध्यमिक व प्राइमरी स्कूल है जिसमे माध्यमिक विद्यालय मे नामांकन छात्रों की संख्या 122 है। जिसमें से मात्र 22 छात्र ही उपस्थित रहे। क्लास 6 मे मात्र 7 छात्र व क्लास सात मे 3 छात्र और क्लास आठ मे मात्र 12 छात्र उपस्थित पाए गए। तो वही प्राइमरी विद्यालय मे कुल 149 बच्चो का नाम दर्ज है जिनमे से मात्र 22 छात्र उपस्थित रहे । विद्यालय के बच्चो से पूछने पर पता चला कि मध्यान भोजन योजना के तहत मात्र एक रोटी मिलता है और रोटी मांगने पर  मास्टर साहब कहते है कि घर जाकर खा लेना। इस पर विधायक प्रेमसागर पटेल शिक्षा व्यवस्था की इस बदहाल व्यवस्था को देख कर नाराजगी जताते हुए जिलाधिकारी महराजगंज व bsa से फोन पर ही शिकायत कर अनुपस्थित शिक्षको पर कार्यवाही करने की मांग कर डाली।। विधायक ने  कहा कि हमारी सरकार की प्राथमिकता है कि शिक्षा व्यवस्था को सुदृड् बनाया जायेगा और इसमे तनिक भी लापरवाही क्षम्य नही होगी।

Comments