महराजगंज: पनियरा में कोरोना संक्रमित मरीज़ मिलने के बाद रतनपुरवा गांव पहुंचे मंडलायुक्त व डीआईजी

रिपोर्ट- कार्तिकेय पांडेय

महराजगंज: पनियरा थाना क्षेत्र के ग्राम सभा रतनपुरवा में कोरोना पॉजिटिव मरीज पाए जाने के बाद ग्रामीणों में हड़कंप मच गया है। वहीं जिला प्रशासन ने गांव के सभी मुख्य मार्गों को बैरियर लगाकर सील कर दिया है। सभी स्थानों पर पुलिस बल को मुस्तैदी से तैनात कर दिया गया है। गांव में आने-जाने वालों पर पूरी तरह से रोक लगा दी गई है। जिसका जायजा लेने मण्डलायुक्त व डीआईजी रतनपुरवा गांव पहुंचे। जिलाधिकारी उज्ज्वल कुमार, पुलिस अधीक्षक रोहित सिंह सजवान, मुख्य विकास अधिकारी पवन अग्रवाल भी साथ में मौजूद रहे।
हम बता दें आपको कि गांव के दो भाई अपना निजी वाहन लेकर दिल्ली में चलाते थे। 26 अप्रैल को मास्क की डिलीवरी करने के लिए दोनों भाई दिल्ली से आसाम के लिए निकले। रास्ते में गीडा के पास बड़ा भाई अपने वाहन से गांव जाने के लिए उतर गया। जहां से गोरखपुर का उसका एक रिश्तेदार अपने निजी वाहन से देर रात लगभग 10 बजे रतनपुरवा उसके गांव छोड़ कर चला गया। 27 अप्रैल को जब इस बात की ग्राम प्रधान सहित अन्य लोगों को जानकारी हुई तो स्वास्थ्य विभाग को इसकी सूचना दी गई। मौके पर पहुंची स्वास्थ्य विभाग की टीम ने युवक में कोरोना का लक्षण दिखने पर उसे जिले के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कर दिया और नमूना लेकर जांच के लिए भेज दिया। देर रात उसकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद स्वास्थ्य महकमें में हड़कंप मच गया। पुलिस अधीक्षक रोहित सिंह सजवान ने मौके पर पहुंच कर और पनियरा पुलिस को आवश्यक दिशा निर्देश दिया। जिसके बाद सभी मार्गों पर बैरियर लगाकर गांव को पूरी तरह से सील कर दिया गया और पुलिस बल की तैनाती कर दी गई है। इसके पहले कोल्हुई और पुरंदरपुर में 6 कोरोना पॉजिटिव मरीजों की 14 दिनों तक इलाज के बाद रिपोर्ट निगेटिव आई तो जिले को कोरोना मुक्त घोषित कर दिया गया था। जिसके बाद जिले के सभी लोग सोशल डिस्टेंसिग का अनुपालन करते हुए भय मुक्त जीवन यापन कर रहे थे।

Comments