कुशीनगर: नहर में पानी न आने से किसानों में मचा हाहाकार, जिम्मेदार कौन


रिपोर्ट- संदीप सिंह, कुशीनगर

कुशीनगर: भारतीय किसान यूनियन (भानु) की जिला इकाई, कुशीनगर के जिलाध्यक्ष रामचन्द्र सिंह प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से अवगत कराये है कि धान का बीज इस समय रोपा करने के लिये गिराया जाना बहुँत ही जरूरी है और इस समय नहरों में पानी नही होने के वजह से किसानों में हाहाकार मचा हुआ है और जिम्मेदार मौन धारण किये हुए है।
आपको बता दें कि जनपद के किसानों द्वारा यूनियन के जिलाध्यक्ष श्री सिंह को बताया गया कि इस समय गर्मी चरम सीमा पर है और नहरों में पानी नही होने के वजह से हम लोग अपने गन्ने की सिचाई भी नही कर पा रहे है। जबकि जनपद कुशीनगर गन्ना बाहुल्य क्षेत्र है। यदि समय से गन्ने की सिचाई नही होगा तो गन्ने का विकास भी ठीक  से नही हो पायेगा और गन्ना हम किसानों का नकदी फसल भी है। यूनियन के जिलाध्यक्ष श्री सिंह ने जिला प्रशासन से माँग किये है कि किसानों की समस्याओं को देखते हुए जनपद के सभी नहरों में तत्काल पानी छोड़ा जाय ताकि किसानों के धान का बीज रोपा के लिये समय से तैयार होकर उसकी रोपाई हो सके साथ ही साथ गन्ने की सिचाई भी हो सके जो किसान हित में होगा।

Comments