गोरखपुर: गोरखनाथ क्षेत्र में हो रहे ध्वस्तीकरण कार्यों का निरीक्षण करने पहुंचे मंडलायुक्त, डीएम, एसएसपी व ज्वाइन्ट मजिस्ट्रेट

गोरखपुर: जनपद की महत्वपूर्ण सड़क मोहद्दीपुर-जंगल कौडिय़ा रोड को फोरलेन में तब्दील किया जा रहा है जो कि नेपाल राष्ट्र को भारत से जोड़ती है। 17.5 किमी लंबी इस सड़क की जद में गोरखनाथ क्षेत्र में गोरखनाथ मंदिर की दुकानें और चहारदीवारी भी पड़ रही थी जिसे सीएम योगी आदित्यनाथ के आदेश पर गोरखनाथ मंदिर की सभी दुकानों को जनपद के विकास के लिए तोड़ दिया गया।
इस क्षेत्र में अन्य दुकानें व मकान भी तोड़ी जा रही जिसका जायजा लेने मंडलायुक्त जयंत नार्लीकर, जिलाधिकारी के.विजयेंद्र पांडियन, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ. सुनील गुप्ता, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट एसडीएम सदर गौरव सिंह सोगरवाल सहित जनपद के आला अधिकारी मौके पर पहुंचकर कार्यदायी संस्था को आवश्यक दिशा निर्देश दिये। गोरखनाथ क्षेत्र को छोड़कर मोहद्दीपुर-जंगल कौडिय़ा के बीच कम से कम 600 से अधिक मकान व दुकानें अतिक्रमण की जद में आ रहे हैं अधिकतर दुकानों व मकानों को तोड़ कर अतिक्रमण हटाया जा चुका है।
अब गोरखनाथ क्षेत्र में अतिक्रमण हटाने का कार्य चल रहा है। यहां भी अधिकतर कार्य पूरा हो गया है। सड़क निर्माण की कार्यदायी एजेंसी एनएच (नेशनल हाईवे) फोरलेन का लगभग 60 फीसद कार्य पूरा हो चुका है। विभाग का दावा है कि सड़क का निर्माण का कार्य जून तक हर हाल में पूरा कर लिया जाएगा। निरीक्षण के दौरान ज्वाइंट मजिस्ट्रेट एसडीएम सदर गौरव सिंह सोगरवाल नगर आयुक्त अंजनी कुमार सिंह संयुक्त आयुक्त डूडा पीओ सहित अन्य संबंधित अधिकारीगण रहे मौजूद।

Comments