देवरिया: बिना जांच के एंबुलेंस को भी नहीं मिलेगा जिले में प्रवेश

रिपोर्ट- संदीप सिंह

देवरिया: पड़ोसी जनपदों में कोरोना संक्रमित मरीजों के मिलने के बाद जिले के बार्डर पर पुलिस की सख्ती बढ़ा दी गई है। यूपी-बिहार बार्डर की पगडंडियों पर भी पहरा लगा दिया गया है। वाहनों की सख्ती से जांच की जा रही है। पड़ोसी प्रांत बिहार के गोपालगंज, सिवान, पड़ोसी जिला गोरखपुर में कोरोना संक्रमित लोगों के मिलने के बाद जिले में चौकसी बढ़ा दी गई है। एसपी ने गुरुवार को नया आदेश दे दिया। जिसमें गोरखपुर या किसी भी अन्य जनपद से आने वाली एंबुलेंस की भी सख्ती के साथ जांच की जाएगी। 
अगर बार्डर पर चेकिग नहीं हो पाती है तो संबंधित थानाध्यक्ष एंबुलेंस को स्कोर्ट करेंगे और जिला अस्पताल लेकर आएंगे। एंबुलेंस के मरीज के साथ ही उसमें मौजूद सभी लोगों की जांच कराई जाएगी। सभी की जांच रिपोर्ट निगेटिव मिलने के बाद ही उन्हें आगे जाने की इजाजत दी जाएगी। उधर सदर कोतवाली के पगरा, धुसवा समेत अन्य जगहों से बिहार से लोगों के प्रवेश करने की शिकायत मिलने के बाद पुलिस ने बार्डर की पगडंडियों पर भी चौकसी बढ़ा दी है। शहर में भी सख्ती दिखी। रुद्रपुर मोड़, पुरवा चौराहा, हनुमान मंदिर चौराहा, सुभाष चौक, कचहरी चौराहे पर भी पुलिस ने सख्ती के साथ चेकिग की। बिना अनुमति के वाहन लेकर चल रहे लोगों को पुलिस ने फटकार लगाई और वाहनों का चालान कर दिया।

Comments