लखनऊ: अंतरराष्ट्रीय वाहन चोर गिरोह का पर्दाफ़ाश, पजेरो व बीएमडब्ल्यू समेत पचास लग्जरी गाड़िया बरामद, गिरोह में भोजपुरी फ़िल्म का एक कलाकार भी शामिल

लखनऊ: चोरी की गाड़ियों पर दूसरे वाहनों के चेसिस नंबर लिखकर उनके रजिस्ट्रेशन पेपर के आधार पर गाड़ियों को बेचने वाले अंतरराष्ट्रीय वाहन चोर गिरोह का लखनऊ पुलिस ने रविवार को खुलासा किया। कमिश्नर सुजीत पांडेय ने पुलिस लाइन में आयोजित प्रेस वार्ता में बताया कि यह शातिर गिरोह यूपी के साथ नेपाल, बिहार और दिल्ली में भी सक्रिय था।
गिरोह के पांच सदस्यों को गिरफ्तार कर पजेरो, बीएमडब्ल्यू समेत पचास लग्जरी गाड़िया बरामद की गई हैं। जिनकी कीमत करीब लगभग पांच करोड़ रूपये हैैं। आरोपितों में एक भोजपुरी फिल्म का कलाकार भी है। गिरोह का पर्दाफाश करने वाली टीम को पचास हजार का इनाम देने की घोषणा की गई है। चिनहट पुलिस ने पांच जून को वाहन जांच के दौरान एक लावारिस कार बरामद की थी। जांच में पता चला कि कार कैसरबाग के नासिर खान की है। थाना प्रभारी ने विधि विज्ञान प्रयोगशाला में उसके चेसिस और इंजन नंबर की जांच कराई।
पता चला कि गाड़ी पर पड़ा नंबर फर्जी है और यह कार पांच जून को ही गोमती नगर से चुराई गई थी। इसके बाद पुलिस ने गिरोह के सदस्यों को गिरफ्तार कर मामले का पर्दाफाश किया। गिरफ्तार आरोपितों में अमीनाबाद का मॉडल हाउस निवासी नासिर खान, हुसैनाबाद रामगंज का रिजवान, कानपुर की विश्वबैंक कॉलोनी बर्रा का श्यामजी जायसवाल, आलमनगर रामनगर का विनय तलवार और रामनगर थाना क्षेत्र आलमबाग का मोइनुद्दीन खान शामिल हैं।

Comments