महराजगंज: पत्नी की हत्या कर फरार चल रहे दंतचिकित्सक ने किया आत्म समर्पण

रिपोर्ट: प्रवीण मिश्र

महराजगंज: गत दिनों ठूठीबारी कोतवाली क्षेत्र में एक
दंत चिकित्सक की पत्नी की संदिग्ध हालत में मृत्यु हो गई थी। जिसका पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद कोतवाली ठूठीबारी में मृतका के भाई की तहरीर के आधार पर दंत चिकित्सक के खिलाफ धारा 302 का मुकदमा दर्ज किया गया था और खोजबीन जारी थी।


प्राप्त जानकारी के अनुसार मृतका का भाई मृत्युंजय मिश्रा पुत्र गिरीश नाथ निवासी गडौरा ने अपने दिए गए तहरीर में बताया है कि उसकी बड़ी बहन स्व. नीता की शादी करीब पन्द्रह वर्ष पहले जनपद कुशीनगर के कप्तानगंज थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम भियुरा निवासी अनिल कुमार तिवारी पुत्र राम सूरत के साथ हुई थी। विवाह के बाद उक्त अनिल ठूठीबारी में एक किराए का मकान लेकर दांत का हस्पताल खोल कर चिकित्सा करता था और बिगत पांच वर्षों से जोगिया घुघली प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर दंतचिकित्सक के पद पर तैनात था। मृत्यंजय ने बताया है कि उसकी स्व. बहन के दो बच्चे क्रमशः 12 तथा 14 वर्ष के है। साथ ही मृतुन्जय ने अपनी तहरीर में उक्त डॉक्टर अनिल तिवारी पर यह आरोप लगाया है कि उसके अवैध सम्बन्ध अन्य कई लड़कियों से रहा जिसका विरोध उसकी स्व बहन नीता करती थी किन्तु वह आदत मे सुधार नही ला पाया।इस बाबत स्व. नीता का भाई मृतुन्जय कुमार मिश्रा ने कहा है कि उसकी बहन नीता को जहर देकर अनिल तिवारी ने हत्या कर दी है। जिस पर पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद 28 अप्रैल को देर शाम डॉक्टर अनिल कुमार तिवारी पर जहर देकर हत्या करने के संबंध में धारा 302 आई पी सी के तहत मुकदमा दर्ज हुआ। आज लगभग ढाई माह बाद अनिल तिवारी ने जून के अंतिम सप्ताह में पडरौना न्यायालय मे आत्मसमर्पण किया जिसे आज महराजगंज न्यायालय के द्वारा जिला जेल महराजगंज भेज दिया गया। इस बाबत कोतवाल विजय नारायन ने बताया की नीता तिवारी के हत्या का आरोपी पति अनिल तिवारी ने न्यायालय मे आत्म समर्पण किया है उसे जिला जेल भेज दिया गया।


[ हिंदी एक्सप्रेस न्यूज़ के एंड्राइड ऐप को डाऊनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें, आप हमें फेसबुकट्विटरयूट्यूब और इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं। ]

Comments