सिद्धार्थनगर: इटवा एसडीएम ने एनडीआरएफ की टीम के साथ बाढ़ संभावित क्षेत्र का किया निरीक्षण

सिद्धार्थनगर: आए दिन कोरोना वायरस का संक्रमण बढ़ता ही जा रहा है। वहीं मानसून के आगाज के कारण नदियों का जलस्तर भी बढ़ता जा रहा है। प्रशासन ने बाढ़ के किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयारियां शुरू कर दी है।प्रत्येक तहसील को आवश्यक दिशा निर्देश भी दे दिया गया है। जिसके मद्देनज़र तीस सदस्यीय एनडीआरएफ की टीम बांसी तहसील में तैनात किया गया है।

जो प्रत्येक तहसील के बाढ़ क्षेत्रों का निरीक्षण कर संवेदनशील और अतिसंवेदनशील क्षेत्रों को चिन्हित कर रहे हैं। ताकि बाढ़ के दौरान त्वरित राहत और बचाव कार्य करके जन और धन का नुकसान रोका जा सके। बाढ़ के दौरान उत्पन्न होने वाली समस्याओं के बारे में लोगों को जागरूक भी किया जा रहा है। ताकि बाढ़ के दौरान कम से कम जन-धन का नुकसान हो।

इसी उद्देश्य को पूरा करने के लिए वृहस्पतिवार को इटवा तहसील में एनडीआरएफ की टीम कमांडर निरीक्षक गोपी गुप्ता और एसडीएम विकास कश्यप ने बाढ़ संभावित क्षेत्रों का दौरा किया और गांव के लोगों से बात-चीत भी किया। बातचीत के दौरान निरीक्षक गोपी गुप्ता ने बाढ़ से पूर्व तैयारियों के बारे में जानकारी दिया एवं एसडीएम विकास कश्यप ने लोगों से उनकी समस्याओं के बारे में जानकारी लिया और उसका त्वरित निस्तारण किया। एनडीआरएफ की टीम ने राप्ती नदी में राहत और बचाव कार्य का मॉक अभ्यास कुशलतापूर्वक किया।


[ हिंदी एक्सप्रेस न्यूज़ के एंड्राइड ऐप को डाऊनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें, आप हमें फेसबुकट्विटरयूट्यूब और इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं। ]

Comments