कुशीनगर: भारतीय किसान यूनियन (अम्बावता) के कार्यकर्ताओं ने जिलाधिकारी को सौंपा सात सूत्रीय ज्ञापन

रिपोर्ट- संदीप सिंह

कुशीनगर: भारतीय किसान यूनियन (अम्बावता) की जनपद इकाई के जिलाध्यक्ष रामचन्द्र सिंह ने अपने कार्यकर्ताओं के साथ जनपद मुख्यालय पर किसानों के माँगों को पूरा करने के लिये विरोध प्रदर्शन किया और अपने सात सूत्रीय माँगों का ज्ञापन जिलाधिकारी को सौपते हुए अवगत कराया कि कप्तानगंज चीनी मिल द्वारा किसानों के गन्ने का भुगतान पेराई सत्र 2019-20 का करोड़ों रूपये बाकी है जो किसान हित में बिल्कुल ठीक नही है।

किसानों के गन्ने का भुगतान जल्द से जल्द कराया जाए। जनपद में बरसात का पानी और तेज हवा की वजह से किसानों का गन्ना पानी में गिर जाने के कारण 60 से 70% फसल की क्षति हुई साथ ही साथ कुछ क्षेत्रों में गन्ना, अधिक पानी होने की वजह से अभी से सुख रहा है। शासन प्रशासन गिरे व सूखे हुए गन्ने का सर्वे कराकर किसानों को उचित मुवावजा देने का कार्य करे। जनपद में किसानों के धान की फसल का बरसाती नाला जिसकी साफ सफाई ठीक से नही होने के वजह से ज्यादा पानी होने और लगातार बारिश के कारण काफी नुकसान हुआ है। शासन प्रशासन धान की फसल का सर्वे कराकर किसानों को उचित मुवावजा देने का कार्य करे। सरकार धान के समर्थन मूल्य 2500/- प्रति कुन्तल निर्धारित करने के लिये घोषणा करे ताकि किसानों को धान का उचित मूल्य मिल सके। जनपद में यूरिया खाद की किल्लत से किसानों में आक्रोश देखने को मिल रहा है। शासन प्रशासन जनपद के गोदामों में यूरिया खाद की ब्यवस्था जल्द से जल्द कराने की ब्यवस्था सुनिश्चित करे ताकि किसानों को यूरिया खाद के लिये परेशान न होना पड़े साथ ही साथ यूरिया की कालाबजारी पर भी नकेल कसने का कार्य करे। जनपद में जो किसान अपने गेहूँ को सरकारी क्रय केंद्र पर बेचे है उनका पैसा अभी तक बैंक खाते में नही गया है। शासन प्रसाशन इसे संज्ञान में लेकर किसानों के गेहूँ का मूल्य उनके बैंक खाते में तत्काल भेजवाने का प्रबन्ध करे। जनपद के कप्तानगंज तहसील अंतर्गत ग्राम सभा पटखौली में लगभग सैकड़ों किसानों को प्रंधानमंत्री सम्मान निधि योजना का लाभ अभी तक नही मिल सका है। जिला प्रशासन कृषि विभाग / तहसील कर्मचारी को उक्त ग्रामसभा में एक कैंप लगाकर बंचित किसानों को प्रधानमन्त्री सम्मान निधि योजना का लाभ दिलवाया जाय। अन्त में यूनियन के जिलाध्यक्ष श्री सिंह ने ज्ञापन के मध्य से शासन प्रशासन को अवगत कराते हुए कहा है कि यदि उपरोक्त किसानों की माँगों को संज्ञान में लेकर इसका समाधान जल्द से जल्द नही किया गया तो हमारा यूनियन किसान हित में कोई गंभीर निर्णय लेनें के लिये बाध्य होगा जिसकी पूरी जिम्मेदारी शासन प्रशासन की होगी। इस मौके पर यूनियन के जिला सचिव चेतई प्रासाद, ब्लाक अध्यक्ष जवाहर प्रासाद, सत्य प्रकाश के साथ साथ अन्य किसान मौजूद रहे।

Comments