गोरखपुर: कोरोना संक्रमण महामारी के प्रति सीडीओ दिखे संवेदनशील, पार्षदों के साथ किया बैठक

गोरखपुर: कोरोना संक्रमण महामारी के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए सीडीओ इंद्रजीत सिंह ने संवेदनशील होते हुए पार्षदों के साथ बैठक कर कहा कि आज पूरा विश्व कोरोना महामारी से जूझ रहा है। मरने वालों के रोज बढ़ते आंकड़े लोगों के दिलों में दहशत पैदा कर रहे हैं। ऐसे में हमें डरने की नहीं बल्कि सकारात्मक रुख अपनाने की आवश्यकता है। यह समझने की जरूरत है कि अन्य बीमारियों की तरह कोरोना भी एक बीमारी है। 

जैसे हम अन्य बीमारियों से डरने के बजाय उनसे लड़ते हैं, उनसे बचने का प्रयास करते हैं, ठीक उसी प्रकार हमें इस त्रासदी से भी डरे बिना इसका सामना करना होगा। हमें इससे स्वयं बचने तथा औरों को भी बचाने की दिशा में प्रयास करते हुए सावधानी बरतनी होगी। इसका मतलब यह नहीं है कि कोरोना को हल्के में लें या फिर इसके प्रति लापरवाह हो जाएं, बल्कि यह समझें कि कोरोना ही एकमात्र और सबसे बड़ी त्रासदी नहीं है। मृत्यु एक शाश्वत सत्य है, यह सब जानते हैं। किसी न किसी रूप में हमें इसका वरण करना ही होता है। कई बार कई भयंकर लाइलाज बीमारियां भी मौत का कारण बन जाती हैं। आज देश में न जाने कितने लोग टीबी, खसरा, मलेरिया, कालाजार, डेंगू, चिकनगुनिया एवं कैंसर जैसी बीमारियों के साथ जीवनयापन कर रहे हैं। जाने कितनी मौतें इन बीमारियों के कारण हो जाती हैं, लेकिन इसके चलते हम दहशत में न आकर उनसे बचने की दिशा में कार्य करते हैं। वैसे ही कोरोना से भी डर कर नहीं, बल्कि सावधान होकर जीने की आवश्यकता है। मौत के भयावह आंकड़ों ने भी जनता को दहशत में ला दिया है। इसके लिए सबसे पहले हमें सकारात्मक सोच को अपनाना होगा। समझना होगा कि महामारियां पहले भी आ चुकी हैं, लेकिन समय के साथ हर एक का हल भी निकलता है। बीमारियां खत्म भी होती हैं। इससे डरना नहीं मुकाबला करना है।

Comments