कुशीनगर: सैनिकों व पूर्व सैनिकों पर पुलिस द्वारा हो रहे अमानवीय व्यवहार को लेकर संगठन के प्रदेश अध्यक्ष ने उपजिलाधिकारी को सौंपा ज्ञापन

रिपोर्ट- संदीप सिंह

कुशीनगर: एक तरफ प्रधानमंत्री, गृहमंत्री, और रक्षामंत्री के साथ साथ प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तक का भी सख्त आदेश है कि प्रदेश में सैनिक, पूर्व सैनिक व वीर नारियों के साथ उनके परिजनों के मान सम्मान और उनकी समस्याओ के समाधान के लिये सभी राज्य सरकार कटिबध्द है। जिससे पूर्व सैनिकों के साथ साथ देश की सीमा मे तैनात जवानों और उनके परिवार का मनोबल को बढ़ाया जा सके।

मगर इसके ठीक बिपरीत दिनाँक 26 जुलाई 2020 को पूर्व सैनिक अजय कुमार पाण्डेय ग्राम व पोस्ट नूरपुर बिशुनपुर, थाना नगसर हाल्ट, जिला गाज़ीपुर जब अपने परिवार की महिला सदस्य की तेरहवी संस्कार की तैयारी में व्यस्त थे। उसी दिन शाम को थानाध्यक्ष नगसर तथा अन्य पुलिस बल द्वारा उक्त परिवारजनो व रिश्तेदारों के साथ अमानवीय व्यवहार के साथ गाली गलौज व मारपीट किया गया। साथ ही घर में घुसकर तेरहवी का सामन व घरेलू सामान का तोड़फोड़ पुलिस बल के साथ किया जो की पुलिस की कार्य प्रणाली का एक जीवन्त शर्मसार घटना है। बेलगाम पुलिस कि क्रूरता की हद तो तब हो गयी जब  पूर्व सैनिक के परिजनों को थाने में ले जाकर एक दुर्दांत अपराधियों की तरह पिटाई की जो कि उनके शरीर के चोटों से साफ साफ झलक रहा है। आगे ज्ञापन के माध्यम से बताया गया है कि उक्त मुद्दों को ध्यान में रखते हुए सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से आग्रह है कि प्रदेश के सभी जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक को उचित दिशा निर्देश जारी करने की कृपा करे ताकि प्रदेश में भयमुक्त व न्यायमुक्त माहौल कायम हो सके। साथ ही प्रदेश पुलिस की तानाशाही पर अंकुश लग सके। इस सम्बन्ध में रामचन्द्र सिंह, प्रदेश अध्यक्ष, किसान विंग (पूर्वी) वेटरन, पूर्व सैनिक संगठन इण्डिया ने सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से सम्बन्धित एक ज्ञापन उपजिलाधिकारी, कप्तानगंज को सौपते हुए माँग किया है कि उपरोक्त प्रकरण की न्यायिक जाँच कराकर दोषियों के ऊपर विभागीय कार्यवाही करके संगठन को सूचित किया जाए। इसके बाद यदि स्थानीय प्रशासन व पुलिस विभाग की कार्यप्रणाली में सैनिक, पूर्व सैनिक व वीर नारियों के परिजनों के साथ अन्याय अथवा अत्याचार जारी रहा तो पूर्व सैनिक मजबूरन सड़क पर उतरने व अनिश्चितकालीन धरना पर बैठने को मजबूर हो जाएँगे। जिसकी पूरी जिम्मेदारी शासन प्रशासन की होगी। इस मौके रामप्यारे शर्मा, चेतई प्रसाद के साथ साथ अन्य लोग मौजूद रहे।


[ हिंदी एक्सप्रेस न्यूज़ के एंड्राइड ऐप को डाऊनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें, आप हमें फेसबुकट्विटरयूट्यूब और इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं। ]


Comments