महराजगंज: पुलिस और स्वाट टीम ने संयुक्त कार्रवाई में पचीस हजार के इनामी अभियुक्त को किया गिरफ्तार

महराजगंज: निचलौल-कप्तानगंज मार्ग से नेपाल भागने की फिराक में मोटरसाइकिल से जा रहे पचीस हजार के वांछित अभियुक्त को घुघली पुलिस और स्वाट टीम ने संयुक्त रुप से घेराबंदी कर गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस द्वारा गिरफ्तार वांछित के पास से एक तमंचा बरामद किया गया है। पुलिस के मुताबिक गिरफ्तार किए गए अभियुक्त का पुराना आपराधिक इतिहास है।

पुलिस अधीक्षक प्रदीप गुप्ता ने बताया कि 21 सितंबर 2020 को गोरखपुर के मोहद्दीपुर में ताबड़तोड़ फायरिंग कर दहशत फैलाने वाले इनामी वांछित अभियुक्त शुभम सिंह उर्फ सिंघाड़ा पुत्र-अजय सिंह को गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार अभियुक्त मोतीराम अड्डा, थाना- झंगहा गोरखपुर जिले का रहने वाला है। इसे निचलौल कप्तानगंज मार्ग से घुघली पुलिस और स्वाट टीम की संयुक्त कार्रवाई के दौरान गिरफ्तार किया गया है।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि घुघली पुलिस और स्वाट टीम घुघली मेन चौराहे पर खड़ी थी। इसी दौरान मुखबिर से सूचना मिली कि गोरखपुर जिले के मोहद्दीपुर में 21 सितंबर को ताबड़तोड़ फायरिंग कर दहशत फैलाने वाले 25 हजार का इनामी वांछित अभियुक्त शुभम सिंह निचलौल, कप्तानगंज मार्ग पकड़कर नेपाल भागने के फिराक में मोटरसाइकिल से आ रहा है। इसके बाद पुलिस ने घेराबंदी की तो एक शख्स मोटरसाइकिल से आते हुए दिखाई दिया। वहीं जब पुलिस ने रोकने का इशारा किया तो मोटरसाइकिल सवार अचानक भागने लगा और जान से मारने की नीयत से फायरिंग की। 

पुलिस को देखकर हड़बड़ाहट में शख्स मोटर साइकिल से गिर गया, जिसके बाद पुलिस ने हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उसने अपना नाम शुभम सिंह उर्फ सिंघाड़ा बताया। वहीं पुलिस ने जब तलाशी ली तो उसके पास से एक तमंचा देसी बारह बोर, एक खाली खोखा और एक जिंदा कारतूस बरामद हुआ। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक गिरफ्तार वांछित अभियुक्त के खिलाफ गोरखपुर जिले के कैंट थाने में और महराजगंज जिले के घुघली थाने में कई मुकदमे पंजीकृत हैं।


[ हिंदी एक्सप्रेस न्यूज़ के एंड्राइड ऐप को डाऊनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें, आप हमें फेसबुकट्विटरयूट्यूब और इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं। ]

Comments