लखनऊ: राहुल गांधी व प्रियंका गांधी की गिरफ़्तारी के बाद भाजपा सरकार पर जमकर बरसे उत्तर प्रदेश कांग्रेस के पूर्व प्रवक्ता अमित गुरु

लखनऊ: बीजेपी की सरकार लोकतंत्र में बिल्कुल भी भरोसा नही करती। उ.प्र. की योगी सरकार बेटियों को सुरक्षा देने में जहां नकारा साबित हो रही है वहीं आमजन के अधिकारों का हनन भी कर रही है। हाथरस की बेटी के साथ जो दरिंदगी हुई वह लगता है सराकर के लिए नाकाफी थी। उसे और मर्माहत और शर्मशार करने के लिए योगी की इस सरकार ने उन रीति रिवाजों को भी दरकिनार कर दिया जिन्हें हिन्दू समाज कभी उपेक्षा करने की नही सोंच सकता। आज पुनः बलरामपुर में एक बेटी के साथ गैंगरेप और उसकी हत्या इस सरकार के मंसूबे को जगजाहिर करता है। 

हाथरस पीड़ित परिवार से मिलने जा रहे कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी व पार्टी महासचिव एवं यूपी की प्रभारी प्रियंका गांधी के साथ दुर्व्यवहार तथा उनकी गिरफ्तारी सरकार के तानशाही रवैये को तो दर्शाता ही है वहीं उ.प्र. की जनता को डराने का का एक कुत्सित प्रयास भी करता है। उक्त बातें कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवम उ.प्र. कांग्रेस के पूर्व प्रवक्ता अमित गुरु ने उ.प्र. सरकार पर बदले की भावना में राजनीति करने का आरोप लगाते हुए अपनी नाराजगी व्यक्त करते हुए कही है। 

श्री गुरु ने कहा कि एक के बाद हत्या, लूट और बलात्कार से उ.प्र. की अवाम त्रस्त है। लॉ एंड ऑर्डर नाम की कोई चीज नही रह गयी है। सरकार पीड़ितों के साथ खड़ी होती नही दिख रही, वहीं आम अवाम और विपक्षी दलों के विरोधों को अनैतिक तरीके से क्रूर दमन कर रही है। श्री गुरु ने कहा कि लोकतंत्र में सभी को अत्याचार के खिलाफ मुखर होने और अपनी आवाज उठाने का हक है। लेकिन इस बीजेपी की योगी सरकार ने हमारे लोकतंत्र के इन अधिकारों को भी छीन लिया है। ऐसे में सवाल उठता है कि केंद्र की मोदी सरकार ने क्या किसी गुप्त एजेंडे के तहत लोकतंत्र को ख़त्म करने का षणयंत्र तो नही बना लिया है? कांग्रेस पार्टी मौजूदा यू.पी. सरकार की दमनकारी नीतियों का विरोध करती रहेगी और साथ ही लोकतंत्र को बचाने की अपनी लड़ाई और पीड़ितों, मुजलिमों के साथ खड़े रहने की अपनी प्रतिबद्धता से कभी नही हटेगी।

राहुल गांधी जी के साथ यूपी पुलिस ने जिस तरह का दुर्व्यवहार किया वह सीधे सीधे उप्र की जनता को डराने का प्रयास है। सरकार के मंसूबे जो लोकतंत्र की बुनियाद को धराशाई करने में लगे हैं उन्हें हम कांग्रेसी कत्तई सफल नही होने देंगे।

श्री गुरु ने कहा एक तरफ केंद्र की मोदी सरकार जिस तरह किसानों के ऊपर काले मन से बनाये गए काले कानून को अपने तानाशाही रवैये से थोपने के प्रयास में है वहीं यूपी की योगी सरकार बेटियों, दलितों, पिछडो, ब्राह्मणों के ऊपर हो रहे अन्याय पर चुप होकर सामंती व्यवस्था को पोषित करने में लगी है।

प्रदेश में बढ़ रहे अपराध और अन्याय को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अब अपने पद पर बने रहने का अधिकार खो दिया है।


[ हिंदी एक्सप्रेस न्यूज़ के एंड्राइड ऐप को डाऊनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें, आप हमें फेसबुकट्विटरयूट्यूब और इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं। ]

Comments