गोरखपुर: इंटरनेशनल धराधाम प्रमुख सौहार्द शिरोमणि महामनीषी उपाधि प्राप्त सामाजसेवी सौरभ पांडेय को पद्मश्री देने की उठी मांग

गोरखपुर: हाल ही में डॉ. सौरभ पाण्डेय को राष्ट्रीय शिक्षा रत्न सम्मान, वर्ल्ड पीस आईकन अवार्ड सहित दर्जनों अवार्ड से सम्मानित किया गया है। डॉ. सौरभ ने अपनी नौकरी का सपना छोड़ कर अपना पूरा जीवन समाज सेवा को समर्पित कर दिया। उन्होंने अनेकों गरीब बच्चियों की शादियां करवायीं और सैकड़ों वृक्ष लगाकर पर्यावरण शुद्धि का संदेश देते रहे। उन्होंने बीस साल तक समाज सेवा में समर्पित कर दिये। जो कि लिपिबद्ध नहीं किए जा सकता। कल अगर उन्हें विश्व का नोबेल शांति पुरस्कार मिलता है तो कोई अचरज की बात नहीं होगी। 

आइये! आपको बताते हैं कि सौहार्दशिरोमणि गुरुदेव महामनीषी श्री सौरभ पाण्डेय  जी जे के बारे में.. आज फर्श से लेकर अर्श तक गांव  से निकल कर सोसल मीडिया तक भारत से लेकर अमेरिका तक विश्व के लगभग 135 देशों तक धराधाम परिवार को कौन नहीं जानता। बता दें कि गौरखपुर के जनपद ग्राम भस्मा में बन रहा धराधाम मानवतातीर्थ, धराधाम का मतलब है एक ऐसा सौहार्दपूर्ण स्थल जहां विश्व के सभी धर्म सभी श्रेष्ठ कर्म पनाह लें सुकून पायें शांति और प्रेम का संदेश जन-जन तक पहुंचाये। कितना सरल लगता है ना... पर जो काम जितना सरल लगता है यकीन मानो वह काम उतना ही चुनौती पूर्ण होता है। और इसी चुनौती को शिरोधार्य करके आगें बढ़ रहे हैं सौहार्दशिरोमणि समाज रत्न महामनीषी श्री सौरभ पांडेय।

आज सौरभ पांडेय जी किसी पहचान के मोहताज़ नहीं है उन्हें देश विदेश से सैकड़ों प्रतिष्ठित सम्मान मिल चुके हैं। उपरोक्त जानकारी हमें ब्लॉगर आकांक्षा सक्सेना जी द्वारा प्राप्त हुई। फिर हमारे  चैनल ने धराधाम प्रमुख गुरूदेव सौरभ पाण्डेय  जी से बात की तो उन्होंने यही बताया कि धराधाम की स्थापना करने का मेरा एकमात्र उद्देश्य विश्व शांति, विश्व प्रगति और विश्व उत्थान है। मेरा जीवन ही व्यर्थ है जो मैं मेरे देशवासियों को मिलजुलकर रहना न सिखा दूं और वसुधेव कुटुंबकम का महत्व न समझा दू़। तो आइये! धराधाम और महसूस कीजिए मानवता धर्म को मानवता के मर्म को।


[ हिंदी एक्सप्रेस न्यूज़ के एंड्राइड ऐप को डाऊनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें, आप हमें फेसबुकट्विटरयूट्यूब और इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं। ]

Comments