महराजगंज: क्या यमदूत बन रहे हैं घुघली नगर के फर्जी अल्ट्रासाउंड सेंटर? क्या चलाया जा रहा है "भ्रूण हत्या" जैसा घिनौना धंधा? सदर एसडीएम ने मारा छापा

रिपोर्ट- अमृत जायसवाल

महराजगंज: शासन की रोकथाम के बावजूद नगर के कई फर्जी अस्पतालों व अल्ट्रासाउंड केंद्रों में भ्रूण परीक्षण व हत्या का धंधा तेजी से फल फूल रहा है। इससे न सिर्फ कानून का उल्लंघन हो रहा है बल्कि परीक्षण कराने के बाद गर्भपात जैसा घिनौना काम भी धड़ल्ले से किया जाता है। कुछ वर्षो में गर्भपात व भ्रूण हत्या का प्रचलन तेजी के साथ बढ़ा है।

जिसकी रोकथाम के लिए शासन ने न सिर्फ भ्रूण परीक्षण को कानूनन अपराध घोषित किया है बल्कि ऐसे अस्पतालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का भी फरमान जारी किया था। भ्रूण परीक्षण के बाद लोगों द्वारा कराए जा रहे गर्भपात के चलते लिंग अनुपात में भारी अंतर आने लगा था। इसको गंभीरता से लेते हुए सरकार ने भ्रूण परीक्षण पर सख्ती के साथ रोक लगा दी।

लेकिन घुघली नगर में अवैध रूप से संचालित हो रहे अल्ट्रासाउंड सेंटर की सूचना पाकर सदर एसडीएम साई तेजा सीलम व स्वास्थ्य विभाग की टीम ने घुघली नगर के बैकुंठी पुल के समीप एक मकान में चल रहे अवैध अल्ट्रासाउंड सेंटर पर छापेमारी के दौरान सील कर दिया।

जहां से मौके पर सोनोग्राफि मशीन, कंप्यूटर, प्रिंटर व ढेर सारे पहले से किए गए जांच के पेपर को बरामद किया गया है। यहां पर ना तो कोई बोर्ड है और न ही कोई अटेंडर। यहां इंट्री रजिस्टर से पता चलाता है की यह अल्ट्रासाउंड सेंटर तीन साल से चल रहा है। इसमें PCPNDT एक्ट के तहत कार्यवाई की जाएगी। उन्होंने बताया की यहां पर लिंग परीक्षण की जाने की सूचना मिली थी। मौके से फ़ीटस नही मिला है। लेकिन बिना अनुमति व बिना लाइसेंस के फर्जी चल रहे और अस्पतालों, फर्जी अल्ट्रासाउंड सेंटर, फर्जी पैथालॉजी सेंटर व फर्जी झोलाछाप डॉक्टरों के ऊपर हम लोग टीम बनाकर छापेमारी कर उनके ऊपर सख्त से सख्त कार्यवाही करेंगे। इस दौरान घुघली चौकी इंचार्ज अखंड प्रताप सिंह सहित तमाम पुलिसकर्मी मौजूद रहे।


[ हिंदी एक्सप्रेस न्यूज़ के एंड्राइड ऐप को डाऊनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें, आप हमें फेसबुकट्विटरयूट्यूब और इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं। ]

Comments