कुशीनगर: मंदिर में शादी कर के घर लौट रहे नवदम्पत्ति हुए सड़क हादसे का शिकार, दूल्हे की हुई मौत, दुल्हन को आई हल्की चोट

रिपोर्ट- संदीप सिंह

कुशीनगर: रामकोला-कसया मार्ग पर धनौजी के सामने मार्ग दुर्घटना में एक टैम्पू अनियन्त्रित होकर गढ्ढे में पलट गया। इस हादसे में दूल्हे की दर्दनाक मौत हो गयी। जबकि दुल्हन मामूली रूप से घायल हुई है। मिली जानकारी के अनुसार देवरिया जिले के तरकुलवा थाने के गांव सोनौला रामनगर निवासी धर्मवीर की बीस वर्षीय पुत्री की शादी कुशीनगर जनपद के तुर्कपट्टी थाना क्षेत्र के धनौजी निवासी कैलाश के पुत्र धर्मेंद्र से तय हुई। शुक्रवार को लड़की, उसकी माँ, रिश्तेदारों, बहन आँचल व भाई अमित के साथ कसया तक आयी। वहां से लड़का धर्मेंद्र अपनी माँ विद्यावती व अन्य परिजनों के साथ लड़की वालों के साथ टैम्पो से रामकोला अनुसुइया मन्दिर पहुंचे। वहां शादी से मना करने के बाद दोनों पक्ष धर्मसमधा मन्दिर पहुंचे।

जहां दोनो परिवारों ने राजी खुशी से काजल व धर्मेंद्र की शादी करायी। शादी के बाद दोनो पक्ष एक टैम्पो पर सवार होकर कसया के लिए चला। रामकोला थाना क्षेत्र के अमवा मन्दिर के पास चालक अचानक टैम्पो से नियंत्रण खो बैठा और टैम्पो जाकर गड्ढे में पलट गया। टैम्पो के नीचे दब जाने के कारण धर्मेन्द्र की घटना स्थल पर ही मौत हो गई। सूचना पर पहुंची एम्बुलेंस से सभी को रामकोला सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया। जहां से मृतक धर्मेन्द्र की मां विद्यावती को पैर टूटने के कारण जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। मौके पर पहुंचे रामकोला थाने के एसआई देशराज सरोज ने जांच पड़ताल कर धर्मेन्द्र के परिवार वालों को सूचना दिए और उनके आने का इंतजार कर रहे थे, ताकि पंचनामा कराकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज जा सके।

Comments