गोरखपुर: शिव विवाह का कथा सुन भाव विभोर हुए दर्शक

👤रिपोर्ट- बी.के. द्विवेदी

गोरखपुर: कैंपियरगंज क्षेत्र अंतर्गत भरपुरवा गांव में श्रीमद् भागवत कथा के दौरान श्रोताओं का अमृत रसपान कराते हुए प्रवचन कर्ता आचार्य राकेश पांडे जी महाराज ने कथा के दूसरे दिन शिव विवाह का सजीव चित्रण सुनाते हुए दर्शकों को भावविभोर कर दिया। श्री पांडे अपने अमृतवाणी के जरिए बताया कि सती मां पार्वती के पिता को अहंकार हो गया था।


भगवान शिव उनके अहंकार को तोड़ते हुए सती से अपना विवाह रचाया। शिव विवाह के दौरान सजी झांकियां श्रोताओं के मन को झकझोर कर रख दे रही थी। श्रीमद् भागवत कथा का यह भव्य आयोजन भरपुरवा गांव में हो रहा है। 


साधो पाठक मुख्य यजमान के नेतृत्व में गत 21 नवंबर को गाजे बाजे के साथ सैकड़ों की संख्या में भक्तों द्वारा परिक्रमा करते हुए करमैनी घाट से राप्ती नदी का जल लेकर श्रद्धालु यज्ञ मंडप तक पहुंचे। कथा में काफी संख्या में  श्रद्धालु दूर दूर बैठकर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए अपनी उपस्थिति दर्ज करा रहे हैं । श्रदालु कथा रसपान करने में इतने लीन हो जा रहे कि कपकपाती ठंड के बावजूद कथा के अंत तक रसपान कर रहे हैं।


[ हिंदी एक्सप्रेस न्यूज़ के एंड्राइड ऐप को डाऊनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें, आप हमें फेसबुकट्विटरयूट्यूब और इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं। ]

Comments