महराजगंज: भारत-नेपाल सीमा पर नेपाली नागरिकों को रोके जाने पर व्यापारियों ने काटा बवाल

महराजगंज: भारत-नेपाल के सीमावर्ती क्षेत्र सोनौली में नेपाली नागरिकों को रोके जाने को लेकर व्यापारियों ने हंगामा खड़ा कर दिया। मौके पर पहुंची स्थानीय पुलिस ने किसी तरह समझा-बुझाकर मामले को शांत कराया। बताया जा रहा है कोरोना वायरस को लेकर लगे लॉकडाउन के कारण 22 मार्च 2020 से ही भारत नेपाल सीमा से आवागमन पर पाबंदी कर दी गयी थी।
इसके बावजूद दोनों देशों के अधिकारियों ने आपसी तालमेल को देखते हुए पैदल यात्रा पर ढील दे रखी थी। लेकिन अचानक से फिर से रोक लगाने की सूचना मिलते ही व्यापारी आक्रोशित हो उठे और इकठ्ठा होकर हंगामा करने लगे। इसी बीच एसएसबी के जवानों से भी काफी देर तक नोक-झोंक होती रही। जिसके कारण लगभग दो घंटे तक आवागमन भी बाधित रहा। व्यापार मंडल के पदाधिकारी सुभाष जायसवाल और विजय रौनियार ने बताया कि नेपाल से क‌ई नागरीक बैंक, दवा व अन्य कई कार्य करने के लिए भारत आते हैं। लोगों ने एसएसबी के अधिकारियों पर नेपाली नागरिकों से दुर्व्यवहार करने का आरोप लगाया है। वही कोतवाल धनवीर सिंह ने बताया कि कोरोना के कारण बॉर्डर सील हैं। आमजन की जो भी समस्या है। वार्ता के बाद हल निकाल लिया जाएगा।


[ हिंदी एक्सप्रेस न्यूज़ के एंड्राइड ऐप को डाऊनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें, आप हमें फेसबुकट्विटरयूट्यूब और इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं। ]

Comments