कुशीनगर: पेट्रोल पंप पर वसूली के बाद हंगामा करना वर्दीधारियों को पड़ा महंगा, मुकदमा दर्ज

कुशीनगर: परसौनी पेट्रोल पंप पर हुए वसूली कांड के आरोपी थानाध्यक्ष पवन सिंह व सब इंस्पेक्टर अजय सिंह पर पेट्रोल पंप एसोसिएशन व पेट्रोल पंप के मैनेजर की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा पंजीकृत कर लिया है। मुकदमा पंजीकृत होने के बाद पुलिस अधीक्षक ने थानाध्यक्ष नेबुआ नौरंगिया पवन सिंह तथा सब इंस्पेक्टर अजय सिंह को ससपेंड कर दिया इस मामले में एक कांस्टेबल को लाईन हाजिर भी किया गया है।

बताते चलें कि गत दिनों पूर्व नेबुआ नौरंगिया थानाध्यक्ष पवन सिंह ने परसौनी स्थित पेट्रोल पंप से जबरिया पचास लीटर पेट्रोल मांगा था। जिसकी सूचना पेट्रोल पंप के संचालक ने अपने एसोसिएशन को देकर बचाव की गुहार लगाई थी। सूचना पाकर एसोशियेशन के जिलाध्यक्ष आदित्य त्रिपाठी ने उक्त प्रकरण में थानाध्यक्ष पवन सिंह से बात  किया। जिस पर थानाध्यक्ष ने अमर्यादित भाषा का प्रयोग करते हुए एसोसिएशन के अध्यक्ष आदित्य त्रिपाठी को काफी कुछ भला बुरा कहा। जिसका आडियो वायरल होने से लोगों में पुलिस की खूब किरकिरी हो रही है। अभी मामला वायरल हो ही रहा था कि 13 मई को उक्त पेट्रोल पंप पर उसी थाना के सब इंस्पेक्टर अजय सिंह ने पहुंचकर काफी हंगामा कर दिया। जिसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर इन दिनों खूब वायरल हो रहा है। इस मामले को तूल पकड़ता देख उच्च अधिकारियों द्वारा सब इंस्पेक्टर अजय सिंह को निलंबित कर दिया गया। मजे कि बात यह है कि सब इंस्पेक्टर अजय सिंह ने इस संदर्भ में थाना प्रभारी पवन सिंह पर मारने पीटने तथा गाली गलौज का भी आरोप भी लगाया है। उक्त प्रकरण में पेट्रोल पंप एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष आदित्य त्रिपाठी और तथा पेट्रोल पंप के मैनेजर अशोक कुशवाहा की तहरीर पर थानाध्यक्ष पवन सिंह के खिलाफ़ मुकदमा दर्ज कर पुलिस अग्रिम कार्यवाही में जुटी है।


[ हिंदी एक्सप्रेस न्यूज़ के एंड्राइड ऐप को डाऊनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें, आप हमें फेसबुकट्विटरयूट्यूब और इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं। ]

Comments