Skip to main content

महराजगंज: ...और आज भी विकास से कोसों दूर है ग्राम सभा कटहरा खास

महाराजगंज: एक तरफ 73वें संविधान संशोधन के तहत पंचायतों को और अधिक सशक्त बनाए जाने से गावों का चौतरफा विकास हो रहा है वहीं दूसरी तरफ सदर विकास खंड का ग्रामसभा कटहरा खास विकास के नाम पर आंसू बहा रहा है। बरसात के दिनों में जल निकासी के अभाव में जल जमा होने से लोगों के आवागमन में परेशानी हो रही है। सड़कों पर जल जमाव गांव की पहचान बन गई है। यही नहीं जंगल के किनारे बसे होने के कारण फसलें जंगली जानवरों की भेंट चढ़ जाती है। कभी-कभी तो इन जानवरों का मुकाबला रख वालों से भी होता है जिनके जान पर भी खतरा मंडराता रहता है और तो और इस गांव का एक पुरवा उसरहा तक जाने के लिए वन विभाग से एनओसी ना मिल पाने के कारण सड़क खड़ंजा या पीच नहीं बन पा रहा है। मार्ग कच्ची होने से बरसात में आवागमन पूर्णतया बाधित हो जा रहा है। चार पहिया वाहनों के पहिए से रास्ता कच्चा होने के नाते गड्ढा बन गया है। जिससे बाइक या अन्य  चार पहिया वाहनों का आना जाना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है। वही चुनाव नजदीक देख जनप्रतिनिधि विकास की गंगा बहाने का ढिढौरा पीटने में लगे हैं। वर्तमान की केंद्र व प्रदेश सरकार गांव के चौमुखी विकास की दावे कर रही हैं। लेकिन यहां ऐसा कुछ देखने को नहीं मिल रहा है। कारण चाहे जो भी हो लेकिन यहां जनप्रतिनिधि या सरकारी मिशनरी पूरी तरह सुस्त पड़ी है। ग्रामीण अपने गांव को भी अन्य गांवों की तरह विकास कराने के लिए तत्पर दिख रहे हैं अब देखना यह है कि उनका यह मंसूबा पूरा होता है या फिर दुर्दशा का दंश झेलते रहेंगे।



[ हिंदी एक्सप्रेस न्यूज़ के एंड्राइड ऐप को डाऊनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें, आप हमें फेसबुकट्विटरयूट्यूब और इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं। ]

Comments

Popular posts from this blog

महराजगंज: एक बार फिर कलंकित हुआ विद्या का पवित्र मंदिर, सह प्रबंधक का अश्लील वीडियो वायरल

महराजगंज : विद्यालय पवित्र मंदिर के समान होता है उसमें पढ़ाने वाले शिक्षक समाज के दर्पण होते है। व्यवस्था देखने वाले समाज को आईना दिखाने का कार्य करते हैं। समाज के लिए अनुकरणीय होते है। ऐसे में व्यवस्थापक ही मानवता को तार-तार करने में लग जाएंगे तो फिर समाज को कहां तक सुधार पाएंगे। ऐसा ही मामला कोतवाली थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम सभा धर्मपुर के एक विद्यालय के सह प्रबंधक का प्रकाश में आया है। उनका एक अज्ञात युवती के साथ वायरल वीडियो क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है। जिसमें वह युवती को इंगित कर अश्लील हरकत करते हुए साफ तौर पर देखे जा सकते हैं। यही नहीं वीडियो कॉल के जरिए लड़की से बात कर अर्धनग्न होकर अश्लील हरकतें भी कर रहे हैं। उनका यह कृत्य समाज के लिए निंदनीय है। उनके स्कूल के जरिए छात्राओं को किस तरह की शिक्षा मिल पाएगी यह तो सोचनीय प्रश्न है। समझ में नहीं आता बड़े-बड़े दावे करने वाले और महिला सशक्तिकरण की बात करने वाले समाज के दर्पण पुनीत कार्य करने वाले इस तरह के कृत्यों में किस तरह संलिप्त हो जाते है? फिलहाल यह तो जांच का विषय है जो क्षेत्र में चर्चा का व

महराजगंज: रक्षक ही बना भक्षक, शादी का झांसा देकर लूटा आबरू

👤 रिपोर्ट- बी.के. द्विवेदी महराजगंज : जब रक्षक ही भक्षक बन जाए तो सुरक्षा कहां तक की जा सकती है, ये सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है। मामला कोतवाली थाना क्षेत्र अंतर्गत कलेक्टरेट पुलिस चौकी पर तैनात एक कांस्टेबल की है। नंदलाल यादव पुत्र अशोक यादव नामक सिपाही कोतवाली थाना के ही नगर की रहने वाली एक लड़की को बहला-फुसलाकर शादी का झांसा देता रहा और उसका आबरू लूटता रहा। यही नहीं शादी का दबाव बनाने पर सिपाही ने दुर्गा मंदिर में ले जाकर लड़की को सिंदूर दान भी किया। जब बात आई उसे अपने साथ रखने की तो कतराने लगा और लड़की से दूरियां बनाने लगा। भविष्य अंधकार में देख लड़की ने जब आवाज उठाई तो कुछ महिला-पुरुष सिपाही उसे संबंध ना होने का दबाव बनाने लगे।  आखिरकार लड़की न्याय के लिए न्यायालय का दरवाजा खटखटाने के लिए विवश हो गई। यह दिगर बात है की पीड़िता को न्याय मिल जाए लेकिन समझ में यह नहीं आता की सुरक्षा की जिम्मेदारी थामने वाली पुलिस जो अब स्वयं इस तरह की वारदातों में संलिपत होती जाएगी तो फिर आखिर जनता किस तरह पुलिस पर विश्वास कर पाएगी। जो भी हो देखना अब यह है की पुलिस अपनी विवा

महराजगंज: एसपी का दिखा तेवर, आबरू लूटने वाला सिपाही हुआ निलंबित

महराजगंज : आखिरकार अपनी करनी का सजा सिपाही को भुगतना ही पड़ा। लड़की को शादी का झांसा देकर उसकी अस्मिता लूटने वाले सिपाही को पुलिस अधीक्षक प्रदीप गुप्ता ने निलंबित कर ही दिया। कोतवाली थाना क्षेत्र अंतर्गत कलेक्ट्रेट पुलिस चौकी पर तैनात सिपाही नंद लाल यादव पुत्र अशोक यादव नगर की एक लड़की को शादी का झांसा देकर स्थानीय दुर्गा मंदिर में सिंदूरदान करने के बावजूद उसे अपने साथ रखने से इनकार कर दिया था। जिसका वीडियो विगत दिनों वायरल हुआ था।  लड़की उसे अपना पति समझ कर अपनी इज्जत उसके हवाले कर दी थी। सिपाही उसके साथ अश्लील हरकतें करता रहा । बात तब बिगड़ी जब सिपाही अपनी विवाहिता को अपने साथ रखने से इंकार कर दिया । लड़की को यह भी पता चला कि सिपाही कहीं और शादी तय कर चुका है। अपने भविष्य को अंधकारमय समझ कर वह सिंदूरदान वाली वीडियो वायरल कर दिया। यही नहीं उस पर दुष्कर्म का आरोप लगाई। वायरल वीडियो को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक ने आरोपी सिपाही नंदलाल यादव को निलंबित कर दिया। [ हिंदी एक्सप्रेस न्यूज़ के एंड्राइड ऐप को डाऊनलोड करने के लिए  यहाँ क्लिक करें , आप हमें  फेसबुक ,  ट्विटर ,