Skip to main content

महराजगंज: पर्यटन उद्योग को प्रोत्साहित करने के लिए जिलाधिकारी ने महात्मा बुद्ध के ननिहाल देवदह का किया निरीक्षण

महराजगंज: जनपद में पर्यटन की संभावनाओं को धरातल पर उतारने और जनपद में पर्यटन उद्योग को प्रोत्साहित करने के लिए जिलाधिकारी सत्येन्द्र कुमार ने महात्मा बुद्ध के ननिहाल के रूप में प्रसिद्ध देवदह का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने वहाँ मौजूद पुरातात्विक अवशेषों व पोखरे को देखा। उन्होंने गेस्ट हाउस, सड़क व अन्य सुविधाओं को विकसित किये जाने हेतु चिन्हित भूमि, बुढ़िया माई मंदिर आदि का भी निरीक्षण किया। चकबंदी विभाग को चिन्हित जमीनों के शीघ्र चकबंदी हेतु निर्देशित किया। उन्होंने ग्राम प्रधान को देवदह स्थल के सुंदरीकरण हेतु निर्देशित करते हुए कहा की इस कार्य में उन्हें सभी जरूरी सहायता उपलब्ध करायी जाएगी। जिलाधिकारी ने कहा कि देवदह एक महत्त्वपूर्ण बौद्ध व पर्यटन स्थल है। इसका विकास होने से न सिर्फ जनपद पर्यटन क्षेत्र के पटल पर स्थापित होगा। बल्कि यहाँ विकास के नए अवसर भी सृजित होंगे। जिसमें कॉटेज इंडस्ट्री, होटल व रेस्तरां प्रमुख हैं। जिलाधिकारी ने पर्यटन व उक्त क्षेत्रों में निवेश के ईच्छुक उद्यमियों को भी आगे आने के लिए कहा ताकि निजी व सार्वजनिक क्षेत्र मिलकर जनपद में पर्यटन को उद्योग के स्थापित करें। उन्होंने इच्छुक उद्यमियों को सभी जरूरी प्रशासनिक सहयोग का आश्वासन दिया।


[ हिंदी एक्सप्रेस न्यूज़ के एंड्राइड ऐप को डाऊनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें, आप हमें फेसबुकट्विटरयूट्यूब और इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं। ]

Comments

Popular posts from this blog

महराजगंज: भूसा मशीन से निकली चिंगारी, कई एकड़ फसल जलकर हुए खाक

महराजगंज : पनियरा थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम सभा डोमरा में भूसा बना रही मशीन में अचानक शार्ट सर्किट होने से चिंगारी निकलने से ग्राम सभा डोमरा के बर्दिअहवा टोला में किसानो के लगभग दस से ग्यारह एकड़ फसल जल कर खाक हो गई। हम आपको बताते चलें कि पनियरा विकासखंड के ग्राम सभा डोमरा में पौहारी पांडेय नामक एक व्यक्ति के खेत में भूसा मशीन से भूसा बनाया जा रहा था कि पौहारी पांडे के खेत में मशीन से निकली चिंगारी किसानों के दस से ग्यारह एकड़ फसल जलकर खाक हो गई। जैसे ही सूचना गांव में आग लगने की लोगों को मिली लोग अपने घर से आग बुझाने के साधन लेकर खेतों की तरफ भागे और लोगों की एकता से किसी तरह आग पर काबू पाया गया। सूचना पाते ही मय फोर्स पनियरा पुलिस मौके पर पहुंच गई और हल्का कानूनगो और हल्का लेखपाल पहुंचकर जले खेतो का सर्वे किया। उनके आंकड़े से अनुसार दस से ग्यारह एकड़ फसल जलकर खाक हो गई। किसान अपनी जले हुए फसलों को देख कर रोने लगे और सरकार से जले हुए फसलों की मुआवजा पाने की आस लगा कर बैठे है।

महराजगंज: ......और आपा से बाहर हो गए साहब, शिकायत लेकर आयी महिला पर बिफरे, हाथापाई की नौबत

महराजगंज : चौपाल लगाकर जनसमस्याओं को सुनने की बजाय जिम्मेदार जब शिकायतकर्ता पर ही भड़क जाए तो शासन की नीतियां कहा तक सफल हो सकेंगी इसी से अंदाजा लगाया जा सकता। आपबीती बताती पीड़िता बता दें कि निचलौल विकास खंड क्षेत्र अंतर्गत ग्राम सभा लोहरौली में चौपाल लगा था। जनता उम्मीद के साथ शिकायत लेकर गई थी। एक महिला ने ज्यों ही शिकायती पत्र एसडीएम को दिया वे भड़क गए और उस पर बिफर पड़े। महिला भी अधिकार के साथ चिल्लाने लगी। हाथापाई कि नौबत आ गई। अन्य लोग भी उग्र हो गए। मामले की गम्भीरता देख एसडीएम भाग खड़े हुए।मामला तो शांत हो गया लेकिन अच्छा नहीं हुआ। [ हिंदी एक्सप्रेस न्यूज़ के एंड्राइड ऐप को डाऊनलोड करने के लिए  यहाँ क्लिक करें , आप हमें  फेसबुक ,  ट्विटर ,  यूट्यूब  और  इंस्टाग्राम  पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं। ] Hindi Express News

महराजगंज: महिला ने खुद को फांसी से लटकाया, मौके पर पहुंची पुलिस जांच में जुटी

महराजगंज : पनियरा थाना क्षेत्र अंतर्गत गांगी बाजार में पैतीस वर्षीय चंदा देवी पत्नी दीपचंद मद्धेशिया ने बन्द कमरे में खुद को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।घटना की जानकारी पाकर स्थानीय पुलिस ने मौके पर पहुंच कर शव को कब्जे में ले लिया और पोस्टमार्टम रिपोर्ट के लिए भेज दिया। जानकारी के मुताबिक महिला का मानसिक सन्तुलन काफी दिनों से ठीक नही था।जिसका इलाज लंबे समय से चल रहा था। इस संबंध में सीओ सदर राजू कुमार साव ने बताया कि गांगी बाजार खास की रहने वाली चंदा देवी नामक महिला ने अपने घर के कमरें में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। उन्होंने बताया कि महिला का मानसिक सन्तुलन ठीक नही था। महिला का गोरखपुर शहर में इलाज चल रहा था। महिला के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।