गोरखपुर: नव वर्ष तथा आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनज़र एसएसपी ने किया अपराध समीक्षा बैठक

गोरखपुर: वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ० विपिन ताडा ने 
जनपद के समस्त राजपत्रित अधिकारियों व थाना प्रभारी तथा संभागों के प्रभारियों के साथ पुलिस लाइन वाइट हाउस सभागार में मासिक अपराध समीक्षा बैठक किया। क्रिसमस डे, नव वर्ष तथा आगामी विधानसभा चुनाव को सकुशल संपन्न कराने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए एसएसपी ने कहा कि अपराध व अपराधियों पर अंकुश लगाने के लिए बीट प्रभारियों को समस्त थाना प्रभारी उनके बीट बुक को बराबर समीक्षा करते रहें तथा हफ्ते में एक बार बीट प्रभारियों के क्षेत्रों का औचक निरीक्षण कर अवलोकन करें। जिससे बीट प्रभारियों पर निगरानीया बनी रहे। बीट प्रभारी अपने-अपने बीट क्षेत्रों में समय से उपस्थित रहकर छोटी-मोटी घटनाओं पर अंकुश लगाने में कामयाब रहा तो बड़ी घटनाओं पर अंकुश अपने आप लग जाएगी। इससे समस्त थाना प्रभारी व राजपत्रित अधिकारी अपने-अपने सर्किल व थाना क्षेत्रों में छोटी-मोटी घटनाओं पर अंकुश लगाएं। जिससे अपराध व अपराधियों पर अंकुश लग सके। बीट प्रभारी अपने-अपने क्षेत्रों के अपराधियों पर बराबर नजर बनाए रखें। समस्त बीट प्रभारी अपने-अपने बीट क्षेत्रों के समस्त व्यक्तियों के संबंध में जानकारियां इकट्ठी रखें। जिससे अपराधों पर अंकुश लगाया जा सके। किसी भी थाना क्षेत्र में अवैध कच्ची शराब की बिक्री नहीं होनी चाहिए। अगर किसी भी थाना क्षेत्र में अवैध तरीके से शराब बिक्री या मादक पदार्थों का बिक्री होते हुए सूचना मिलती है तो थाना प्रभारी व चौकी प्रभारी तथा बीट प्रभारी के खिलाफ कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी। सर्दी का मौसम शुरू है। रात्रि गश्त थाना प्रभारी व बीट प्रभारी चौकी प्रभारी अपने-अपने क्षेत्रों में निर्धारित रोस्टर के अनुसार करें। सर्किल प्रभारी बराबर निगरानी बनाए रखें। महिला अपराधों पर अंकुश लगाने के लिए महिला शिकायतों पर तत्काल कार्रवाई किया जाए। महिला स्कूलों के आसपास सादी वर्दी में महिला सिपाही व कांस्टेबलों की ड्यूटी लगाई जाए। जिससे शरारती किस्म के अपराधियों पर अंकुश लगाया जा सके और महिला अपराधों पर नियंत्रण हो सके। आगामी विधानसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए शस्त्र लाइसेंस धारकों का सत्यापन कर शस्त्रों को जमा कराने की प्रक्रिया प्रारंभ कर दें। जिससे अधिसूचना जारी होने से पूर्व शस्त्र लाइसेंस धारकों के शस्त्र को जमा कराया जा सके। चुनाव के दौरान अव्यवस्था फैलाने वाले व्यक्तियों को चिन्हित कर निरोधात्मक कार्रवाई सुनिश्चित करें। जिससे विधानसभा चुनाव को सकुशल संपन्न कराया जा सके।


[ हिंदी एक्सप्रेस न्यूज़ के एंड्राइड ऐप को डाऊनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें, आप हमें फेसबुकट्विटरयूट्यूब और इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं। ]


Comments